CCTV kya hai और कितने प्रकार का होता है?

हेलो! जैसा की आपने टाइटल में देख लिया होगा की हम आज Discuss करने वाले है की CCTV kya hai? और यह कितने प्रकार का होता है? (types of cctv in hindi) तो मैं आपको यह बता दू की आप बिलकुल सही जगह पर पहुच गए है क्यों की आज हम आपको पूरी डिटेल में जानकारी देने वाले है की CCTV camera क्या होता है? और यह कितने प्रकार का होता है? इसके साथ ही हम आपको यह भी बताएँगे की हमें अपने घर या ऑफिस में कौन से प्रकार का CCTV कैमरा इस्तेमाल करना चाहिए, यह पूरा लेख पढने के बाद आप यह समझने में सक्षम हो जायेंगे की हमें अपनी जरुरत के हिसाब से कहा पर कौन सा CCTV कैमरा इस्तेमाल करना चाहिए.

types of cctv in hindi | cctv kya hai

Table of Contents

CCTV Kya hai?

CCTV का Full Form होता है Closed Circuit Television (क्लोज सर्किट टेलीविज़न) यह एक प्रकार का विडियो रिकॉर्डिंग कैमरा होता है जिसको की Servillance यानी की निगरानी करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है अपने अक्सर देखा होगा की आजकल बैंक, शौपिंग मॉल, दुकान, स्कूल, सड़क और चौराहों पर CCTV कैमरे लगे होते है जो सभी पर निगरानी रखते है.

आजकल CCTV कैमरे का इस्तेमाल एक आम बात हो गयी है क्यों की हर कोई हर समय हर जगह नही हो सकता और अपने सामान की सुरक्षा हर कोई करना चाहता है CCTV की मदत से कोई व्यक्ति दूर बैठकर अपने ऑफिस या दुकान में क्या चल रहा है इसे आसानी से देख सकता है और वह चाहे तो CCTV कैमरा द्वारा रिकॉर्ड किया हुआ फुटेज बाद में भी आराम से देख सकता है.

CCTV कैमरा न सिर्फ निगरानी रखता है बल्कि यह अपने आसपास की सभी घटनाओ को एक हार्डडिस्क में सुरक्षित भी रखता है जिसे आप बाद में भी आसानी से देखकर किसी चोरी या घटना के पीछे कौन है ये पता लगा सकते है आजकल CCTV कैमरा के क्षेत्र में बहुत तरक्की हो गयी है और मार्किट में बहुत ही उम्दा क्वालिटी के कैमरा उपलब्ध है जो न सिर्फ विडियो बल्कि ऑडियो को भी रिकॉर्ड कर सकते है कुछ ऐसे CCTV कैमरा भी आपको मिल जायेंगे जो दिन और रात दोनों में ही बहुत साफ़ (clear) रिकॉर्डिंग कर सकते है.

CCTV कितने प्रकार का होता है? (types of cctv in hindi)

दोस्तो आजकल CCTV कैमरा का इस्तेमाल लगभग हर जगह जैसे की घरो में, ऑफिस में, ट्रांसपोर्ट-वाहनों में, सड़क पर, चौराहे पर, बैंक में, दुकानों में, फ़ूड और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स में तथा लोजिस्टिक्स और वेयरहाउस में सभी जगह CCTV कैमरा का इस्तेमाल हो रहा है और इसका मुख्या उधेश्य security यानि सुरक्षा के लिए किया जाता है इसीलिए आप अक्सर आप CCTV की जगह security camera या CCTV security camera सुनते रहते है.

अगर आपके पास भी कुछ ऐसा है जिसकी सुरक्षा आपके लिए बहुत जरुरी है और आप CCTV camera लगवाना चाहते है तो आपको यह जरुर जान लेना चाहिए की CCTV camera कितने प्रकार का होता है और हमें अपनी जरुरत के माफिक कौन से प्रकार का कैमरा लगवाना चाहिए. तो आइये अब जानते है की CCTV कितने प्रकार का होता है –

दोस्तो जैसा की आप जानते है की मार्किट में अलग अलग प्रकार के कैमरे उपलब्ध है और यह सिर्फ देखने में ही अलग नही होते है बल्कि इनमे अलग अलग Technology का भी इस्तेमाल किया जाता है जैसे की Network या IP camera, Wireless camera आदि.

Technology के आधार पर CCTV कैमरा कितने प्रकार का होता है?

वैसे तो आपको google पर search करने पर हर कोई अपनी अलग अलग राय देता है मगर हम आपको Technology के आधार पर CCTV camera कितने प्रकार का होता है? यह अपनी समझ और रिसर्च के आधार पर बताएँगे जिसकी मदत से आपको यह समझने में आसानी होगी की आपको कौन सा कैमरा लगवाना चाहिए, हमने टेक्नोलॉजी के आधार पर CCTV camera को 4 प्रकार में बताया है –

  • एनालॉग CCTV कैमरा (Analog CCTV Camera)
  • आईपी CCTV कैमरा (IP CCTV camera)
  • वायरलेस CCTV कैमरा (Wireless CCTV Camera)
  • एच डी CCTV कैमरा (HD CCTV Camera)

एनालॉग CCTV कैमरा (Analog CCTV Camera)

यह CCTV का सबसे पुराने प्रकार की टेक्नोलॉजी पर आधारित होते है और इनमे टेलीविज़न line टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाता है TLV यानि की टेलीविज़न line टेक्नोलॉजी पुराने ज़माने में टीवी चलाने में इस्तेमाल किया जाता ता इसमें टेलीविज़न line की मदत से रिकॉर्ड किये हुए विडियो format को DVR (DIGITAL VIDEO RECORDER) की मदत से एनालॉग से डिजिटल format में बदला जाता है Digital Video Recorder एक ऐसा device होता है जिसकी मदत से एनालॉग सिग्नल को डिजिटल सिग्नल में बदलने का काम करता है.

डिजिटल विडियो format को हम अपनी टीवी स्क्रीन पर देख सकते है इसमें हरेक कैमरा के लिए एक टीवी लाइन का इस्तेमाल होता है जिसके माध्यम से हम रिकॉर्ड किये हुए फुटेज को अपनी टीवी स्क्रीन पर देखते है हर कैमरे के लोए अलग अलग टीवी स्क्रीन का इस्तेमाल किया जाता है मतलब की हमें हर एक कैमरे के लिए अलग अलग टीवी का इस्तेमाल किया जाता है यह विडियो फुटेज रिकॉर्ड करने की सबसे पुरानी तकनीक है और यह सस्ती भी पड़ती है आमतौर पर हम घरो या ऑफिस में इस प्रकार के कैमरे देखने को मिलते है

एनालॉग CCTV कैमरा के लाभ

  • एनालॉग CCTV कैमरा सबसे बेसिक प्रकार के टेक्नोलॉजी पर आधारित है जो की अब काफी पुरानी हो गयी है इसी कारण इनकी कीमत में भी गिरावट आ गयी है और आप सबसे कम दामो में इन्हें मार्किट से खरीद सकते है
  • आप इसको अपने घर या ऑफिस में आसानी से लगाया जा सकता है और ये आप खुद भी कर सकते है इसमें लिए आपके पास एक माप होना चाहिए जिसमे कैमरे कहा खा पर लगने है और इसके लिए DVR और टीवी मॉनिटर कहा पर लगाना है यह साफ़ साफ़ मेंशन होना चाहिए
  • चुकी यह सबसे बेसिक टेक्नोलॉजी पर आधारित होते है इसी कारन इनका इंटरफ़ेस भी काफी बेसिक सा ही है जिसको कोई भी व्यक्ति जो थोडा बहुत टीवी या computer का इस्तेमाल जनता हो वो आसानी से कर सकता है

आईपी CCTV कैमरा (IP CCTV camera)

IP camera को internet के माध्यम से कही से भी एक्सेस किया जा सकता है यह internet protocol पर आधारित होता है जैसा की हमने अपने आर्टिकल ip address kya hai? पढ़ा है की internet पर हर एक device को एंड IP address allot किया जाता है जिससे वह internet पर आसानी से identify हो सके, यह कैमरे डिजिटल कैमरे भी कहलाते है जिसमे रिकार्डेड विडियो format डिजिटल format में होते है जिससे की इनकी विडियो क्वालिटी भी एनालॉग कैमेरो से जादा अच्छी होती है

IP कैमेरो में DVR की जगह NVR (Network Video Recorder) का इस्तेमाल किया जाता है और नार्मल TV line की जगह पर network cables या CAT-6 cables का इस्तेमाल किया जाता है जिससे इनकी रिकॉर्डिंग की स्पीड और क्वालिटी और अच्छी हो जाती है

IP CCTV कैमरा के लाभ

  • IP कैमरा अच्छी क्वालिटी के साथ ही 4K रिकॉर्डिंग को भी support करता है हलाकि क्वालिटी जादा अच्छी होने की वजह से जादा मेमोरी के विडियो रिकॉर्ड होते है जिसके लिए जादा स्पेस वाली हार्ड डिस्क की जरुरत पड़ती है
  • इस प्रकार के कैमेरो को कही से भी internet के माध्यम से एक्सेस किया जा सकता है जो हमें सुविधा तो देता ही है पर internet चार्जेज भी बढ़ जाते है
  • इन कैमेरे एडवांस फीचर वाले होते है जिनमे ज़ूम क्रॉप आदि की सुविधा मिल जाती है

वायरलेस CCTV कैमरा (Wireless CCTV Camera)

जैसा की नाम से ही जाहिर है की WIRELESS CAMERA में line या तार का इस्तेमाल नही किया जाता है यानि इसमें वायर यूज़ नही किये जाते बल्कि WI-FI यानी वारेलेस टेक्नोलॉजी से जुड़े होते है ये कैमरे कुछ हद तक IP कैमेरो की तरह ही होते है बस इनमे वायर्स का इन्तेमल नही होता इनको हम कही से भी एक्सेस कर सकते है इसके लिए हमारे पास WI-FI या internet की सुविधा होनी चाहिए

Wireless CCTV Camera के लाभ

  • ये कैमरे इनस्टॉल करने में आसन होते है जिनको घरो में हम खुद ही इनस्टॉल कर सकते है
  • इनमे वायर्स का इस्तेमाल नही होता इसीलिए हम इनके कभी भी कही भी लगा सकते है बिना किसी प्रोफेशनल की मदत से
  • आप चाहे तो NVR की मदत से रिकॉर्डिंग को हार्डडिस्क में save कर सकते है या बस निगरानी रखना चाहते है तो हम अपने मोबाइल फ़ोन या computer/laptop की हेल्प से आसानी से निगरानी कर सकते है

एच डी CCTV कैमरा (High Definition CCTV Camera)

HD का Full Form होता है High Definition जिसको डिजिटल form में अच्छी क्वालिटी या clearity के लिए इस्तेमाल किया जाता है CCTV के सापेक्ष इसका मतलब है की इस प्रकार के कैमेरो में अच्छी क्वालिटी एंड क्लेअरिटी की विडियो रिकॉर्ड की जाती है यह 720p से लेकर 4K तक की क्वालिटी के विडियो रिकॉर्ड कर सकता है

HD कैमरा के लाभ

  • इसमें हमको बहुत ही clear इमेज और विडियो मिल जाती है जिसमे कुछ भी identify करने में आसानी होती है
  • इमेज को बड़ा या छोटा करने पर भी इमेज या वीडियोस की क्वालिटी अच्छी बनी रहती है
  • आजकल के लगभग सभी कैमेरो में अच्छी क्वालिटी मिल जाती है इसलिए इसको कोई अलग प्रकार का कैमरा नही कह सकते क्यों की आजकल सभी कैमरे HD क्वालिटी में मिल जाते है

CCTV camera के प्रकार (Types of CCTV in hindi) based on Design, Uses, Technology and reliability

डोम CCTV कैमरा (DOM CCTV Camera)

dom camera | types of cctv in hindi

डोम CCTV कैमरा की बनावट डोम आकार की होने के कारन इसका नाम डोम कैमरा पड़ा है यह कैमरा छोटा होने के साथ ही अपने आकार के कारन कही भी आसानी से फिट हो जाता है और जल्दी नज़र में भी नही आता, यह इंडोर तथा आउटडोर यूज़ के लिए अच्छा मन जाता है पर जादातर इसका यूज़ इंडोर में ही किया जाता है

Uses: चुकी डोम कैमरा एक वाइड एंगल यानी वाइड एरिया को कवर करता है इसी कारन इसका अधिकतर यूज़ इंडोर यानी घर या ऑफिस के अन्दर किया जाता है उसके अलवा दुकानों में भी यही कैमरा यूज़ किया जाता है

बुलेट CCTV कैमरा (Bullet CCTV Camera)

cctv kya hai (types of cctv in hindi)

बुलेट CCTV कैमरे आकर में बड़े और सिलिंडर के आकार के होते है जो आसानी से दिख जाते है , इन कैमेरो की क्वालिटी डोम कैमरा से जादा अच्छी होती है जिस कारन ये जादा दुरी तक देख सकते है इनका मुख्य उपयोग घर या ऑफिस के बहार किया जाता है ये आउटडोर यूज़ के लिए बहुत अच्छे माने जाते है

Uses: इन कैमेरो का इस्तेमाल बाहरी यूज़ के लिए किया जाता है और बहुत जादा दूर तक निगरानी रखने के लिए किया जाता है

सी माउंट CCTV कैमरा (C-Maount CCTV Camera)

cctv kya hai (types of cctv in hindi)

बुलेट कैमरे की तरह देखने में होते है लेकिन उससे भी जादा एडवांस कैमरे होते है जो की अपनी दिशा के अलवा इधर उधर घूम सकते है और 40-फीट से भी अधिक दुरी तक देख सकते है ये किसी भी मौसम में चाहे कितनी भी गरमी, बारिश हो इनपे उसका असर नही होता.

Uses: दूर तक देख सकने के कारन ये कैमेरे बाहरी यूज़ के लिए अच्छे माने जाते है इसके अलवा ये लोगिस्टिक तथा मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में भी यूज़ किये जाते है क्यों की ये बहुत अधिक गर्मी बर्दाश्त कर सकते है

पीटीजेड CCTV कैमरा ( Pan Tilt Zoom CCTV Camera)

types of cctv in hindi

जैसा की नाम से ही जाहिर है PTZ कैमरे से आप दाए और बाए , ऊपर और निचे, छोटा और बड़ा कर के निगरानी रख सकते है इन कैमेरो को मॉनिटर करने क लिए एक व्यक्ति की जरुरत पड़ती है जो इसके द्वारा हर तरफ नज़र रखता है

Uses: इनका उपयोग उन जगहों पर होता है जहा पर हमे किसी चीज़ को लगातार मॉनिटर करने की जरुरत होती है जैसे की शौपिंग मॉल या फिर मुसियम या कैसिनो आदि

डे नाईट और इन्फ्रारेड CCTV कैमरा (Day Night and Infrared CCTV Camera)

cctv kya hai

नाम से ही आप समझ सकते है की इन कैमेरो का इस्तेमाल मैनली तब किया जाता है जब हमें दिन और रात दोनों में अच्छी क्लेअरिटी चाहिए होती है यहा डे/नाईट और इन्फ्रारेड में फर्क होता है क्यों की इन्फ्रारेड कैमरे इन्फ्रारेड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करते है इसी कारन ये डे नाईट कैमेरो से जादा महंगे होते है और ये कितने भी अँधेरे में और कोहरे या धुएं में भी आसानी से देख सकते है और clear इमेज रिकॉर्ड कर सकते है

Uses: ये कैमरे आउटडोर इस्तेमाल के लिए अच्छे माने जाते है तथा तब यूज़ होते है जब हमें अँधेरे में भी अच्छी क्लेअरिटी वाली इमेज या रिकॉर्डिंग मायने रखती है

Conclusion

दोस्तो उम्म्मीद है की उपरोक्त दी हुयी जानकरी आपको अच्छी लगी होगी और अब आप यह पूरी तरीके से समझ गए होंगे की CCTV kya hai? और यह कितने प्रकार का होता है? (types of cctv in hindi) अगर आप भी CCTV कैमरे अपने घर या ऑफिस में लगवाना चाहते होंगे तो अब आपको ये पता लग गया होगा की कौन सा कैमरा आपको लगवाना चाहिए या आपके के लिए कौन सा सूटेबल होगा आपके बजट के हिसाब से, यदि आपको लगता है की यह जानकारी किसी दोस्त के काम आ सकती है तो इसे अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी अवश्य शेयर करे ताकि और लोगो तक यह जानकारी पहुच सके और उनके किसी प्रकार का कोई डाउट न रहे

CCTV Camera पर आधारित प्रश्नोत्तर

CCTV कैमरा कितने प्रकार के होते है?

Technology के आधार पर CCTV कैमरा कितने प्रकार का होता है?
एनालॉग CCTV कैमरा (Analog CCTV Camera)
आईपी CCTV कैमरा (IP CCTV camera)
वायरलेस CCTV कैमरा (Wireless CCTV Camera)
एच डी CCTV कैमरा (HD CCTV Camera)

घर के लिए कौन सा cctv कैमरा अच्छा होता है?

वैसे तो आमतौर पर घरों में DOM कैमरा का अधिकतर इस्तेमाल किया जाता है मगर आजकल हर प्रकार के कैमरे हाइब्रिड तरीके से तैयार किये जाते है जो की DOM, Bullet, PTZ आदि को सम्मिलित करके बनाये जाते है और अच्छी क्वालिटी प्रदान करते है आपको घर में लगाने के लिए IP based DOM या Bullet कैमरा का इस्तेमाल करना चाहिए ताकि कही से भी access किया जा सके.

सीसीटीवी कैमरे क्या है?

CCTV का Full Form होता है Closed Circuit Television (क्लोज सर्किट टेलीविज़न) यह एक प्रकार का विडियो रिकॉर्डिंग कैमरा होता है जिसको की Servillance यानी की निगरानी करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है अपने अक्सर देखा होगा की आजकल बैंक, शौपिंग मॉल, दुकान, स्कूल, सड़क और चौराहों पर CCTV कैमरे लगे होते है जो सभी पर निगरानी रखते है.

CCTV कैमरा कितने का आता है?

दोस्तो मार्किट में कई तरह के CCTV कैमरे उपलब्ध है जो की 5000 से लेकर 50000 कीमत रखते है लेकिन यदि आप घर के लिए cctv देख रहे है तो आपको सस्ता वाला ही cctv कैमरा लेना चाहिए.

Avatar of Amit Rai

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.