सुमित अंतिल जीवन परिचय, भाला फेंक,गोल्ड मैडल, ओलिंपिक 2021 | Sumit Antil Biography, Javelin Throw in Hindi

सुमित अंतिल जीवन परिचय, बायोग्राफी, भाला फेंक एथलीट, रिकॉर्ड, टोक्योओलंपिक, गोल्ड मैडल विजेता, शेड्यूल, जाति, धर्म [Sumit Antil Biography, Javelin Throw in Hindi] (Tokyo Olympic 2021, Gold Medal, Personal Best, Best Throw, World Ranking, Height, Record, Salary, Religion, Caste)

दोस्तो हाल हुई में आपने सुमित अंतिल के बारे में काफी कुछ सुना होगा जिन्होंने टोक्यो पैरालंपिक में भाला फेंक (Javelin Throw) में गोल्ड में हासिल किया है आज हम सुमित अंतिल जीवन परिचय के बारे में आपको बताने वाले है की आखिर कौन है सुमित अंतिल और कहा के रहने वाले है टोक्यो पैरालंपिक में भाला फेंक (Javelin Throw) कैसे आये और उनके कोच कौन है?, उनका जीवन किस प्रकार का है? और सुमित अंतिल क्या है? आज हम आपके इन सभी सवालो के जवाब देने वाले है.

सुमित अंतिल का जीवन परिचयSumit Antil Biography in Hindi

सुमित अंतिल का जीवन परिचय |Sumit Antil Biography in HIndi
नामसुमित अंतिल
जन्म06 जुलाई 1998
जन्म स्थानसोनीपत, हरियाणा
मातानिर्मला
पिताराजकुमार
उम्र23
खेलभाला फेंक
कोचराजकुमार
शिक्षाबी.कॉम.
पेशाएथलीट

यह भी पढ़े – Kalyan Singh Biography in Hindi

सुमित अंतिल का जन्म

सुमित अंतिल का जन्म सोनीपत के खेवड़ा गाँव में हुआ है जो की हरियाणा में स्थित है इन्होने अपना बाया पैर एक मोटर साइकिल एक्सीडेंट में खो दिया था उस समय यह मात्र 17 साल के थे उनके पिता की मृत्यु बचपन में ही हो गयी थी तभी से उनके माता निर्मला जी ने उनकी देखभाल का जिम्मा संभाला.

सुमित अंतिल इतनी कम उम्र में अपना बाया पैर खोने के बाद भी निरास नही हुए और जीवन का दर कर सामना किया उन्होंने GoSports Foundation की मदत से पैरालम्पिक खेलो में कदम रखा, इसमें उनके गुरु रहे राजकुमार ने उनकी बहुत मदत करी.

सुमित अंतिल ने पैरालम्पिक 2021 में जीता गोल्ड

हाल ही में सुमित अंतिल ने टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) में अपना शानदार प्रदर्शन किया है उनहोने 68.55 मीटर का जेवेलिन थ्रो में गोल्ड मैडल अपने नाम किया है और देश का नाम रोशन किया है उन्होंने F-64 वर्ग में भाला फेंक में गोल्ड मैडल जीता है यह मुकाम उन्होंने अपने पाचवे प्रयास में हासिल किया और पहले स्थान पर रहे, बता दें की अब तक का यह भारत का दूसरा गोल्ड मैडल है.

सुमित अंतिल इससे पहले भी 2019 में इटली में हुए वर्ल्ड पैरा एथलीट में रिकॉर्तड बनाया था और सिल्थावर मैडल भी जीता था इसके अलावा 2020 में हुए ग्रीष्मकालीन पैरालंपिक में गोल्ड मैडल के लिए खेल चुके है

सुमित अंतिल का कैरियर – Sumit Antil Career

सुमित अंतिल का कैरियर के बारे में हम आपको यहा जानकारी देने वाले है इसके लिए आपको यह लेख पूरा पढने की आवश्यकता है हम समय समय पर इस लेख को अपडेट करते रहेंगे और सुमित अंतिल का कैरियर के बारे में आपको जानकारी देते रहेंगे.

सुमित अंतिल बचपन से ही खेलो में रूचि रखते है उन्हें नए चलेंजेस लेना और उन्हें पूरा करने में बहुत मजा आता है उन्होंने मात्र 17 वेर्ष में उम्र में ही खेलना शुरू कर दिया था और अपने देश के लिए कुछ करने की थान लि थी और इसी का नतीजा है की आज उन्होंने भारत के लिए गोल्ड मैडल जीतकर हमारे देश का नाम रोशन कर दिया है.

सुमित अंतिल का शुरुआती जीवन

सुमित को बचपन से ही खेलो में काफी रूचि थी और वह एक पहलवान बनना चाहते थे मगर 17 वर्ष में उम्र में ही उनका एक मोटरसाइकिल एक्सीडेंट में एक पैर खो दिया जिसके बाद उनका यह सपना टूट गया, लेकिन उन्होंने हार नही मानी, जब उनकी मुलाकात जेवेलिन के कोच नवल सिंह से हुयी तभी से उन्होंने जेवेलिन थ्रो में अपना कैरियर बनाने की ठान लिया था.

सुमित अंतिल के बारे में त्वीट – Sumit Antil on Twitter

प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने सुमित अंतिल के बारे में ट्विट किया –

टोक्यो 2020 ट्विट –

राहुल गाँधी ने भी सुमित अंतिल को बधाई दी –
Avatar of Hindi India Contributors

हिन्दी इंडिया वेबसाइट पर हिन्दी में जानकारीके लिए निरंतर विजिट करते रहे यह पर आपको टेक, ब्लॉग्गिंग, शायरी, कोट्स, भारत के त्यौहार आदि के बारे में जानकारी प्रकाशित की जाती है.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.